भव्य शोभायात्रा निकाल प्रजापति समाज ने रटलाई में मनाई श्री यादे माता जयंती

मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक नरेन्द नागर ने धर्मशाला निर्माण में 5 लाख रूपये के सहयोग की घोषणा की।

0
114

प्रजापति मंथन : रटलाई । कस्बे में प्रजापति कुम्हार समाज की आराध्य देवी मां यादे जयंती उत्सव हर्षोल्लास के साथ मनाया गया । इस अवसर पर कस्बे सहित आसपास के 12 गांवो के समाज बंधु प्रजापति धर्मशाला में एकत्रित हुए । जहां से मां यादे की शोभायात्रा शुरू हुई जो कस्बे के प्रमुख मार्गों से होकर श्री यादे माता मंदिर पर आकर संपन्न हुई।

शोभायात्रा के बाद एक सभा का आयोजन किया गया । जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित क्षेत्रीय विधायक नरेंद्र नागर ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी समाज का एक आराध्य देव या देवी होती है जो जिसकी जयंती महोत्सव समाज द्वारा मनाया जाता है जिससे कि समाज की एकता बनी रहे और आराध्य देव के प्रति आस्था से आशीर्वाद मिलता रहे । इस दौरान विधायक ने सामुदायिक भवन निर्माण के लिए विधायक कोष से 5 लाख रुपए देने की घोषणा की । इस अवसर पर बकानी प्रधान मोतीलाल ऐरवाल, मंडल अध्यक्ष अमर लाल लोधा ,महामंत्री इंदर सिंह गुर्जर,जिला परिषद सदस्य रोशन सिंह लोधा, सुजान सिंह गुर्जर, अमरलाल चारण, सरपंच राजूलाल भील, देवराज लोधा व बदन सिंह आदि भाजपा कार्यकर्ता तथा बड़ी संख्या में प्रजापति कुम्हार समाज के महिलाएं एवं पुरुष उपस्थित रहे ।

कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि के रूप में कोटा से बाबूलाल रेनवाल, हाडौती समाज सुधारक संघ की अध्यक्षा गीता रेडीवाल शामिल हुई। अतिथि के रूप में जिलाध्यक्ष एवं राष्ट्रीय सचिव मोहनलाल सांगरिया, युवा प्रदेश मुख्य महासचिव प्रहलाद कुमार प्रजापति, युवा जिलाध्यक्ष राजेश्याम प्रजापति, प्रदेश महासचिव पन्ना लाल प्रजापति, भागीरथ प्रजापति, बालचंद प्रजापति, सीताराम प्रजापति आदि मंचासीन रहे।

अतिथियों ने अपने उद्बोधन में सामाजिक कुरूतियों को समाप्त करने तथा शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ने पर जोर दिया। विशेष रूप से महिला शिक्षा और बालिका शिक्षा पर सभी ने जोर दिया। श्रीयादे माता की आरती की बोली लगाई गई जो सर्वाधिक राधेश्याम प्रजापति अध्यापक ने लगाई। आरती के पश्चात महाप्रसादी का वितरण किया गया।

रटलाई। समाज को संबोधित करते बाबू लाल जी रेनवाल एवं मंचासीन अतिथि।

कई धार्मिक आयोजन हुए

मां यादे जयंती महोत्सव पर समाज की ओर से कई प्रकार के धार्मिक आयोजन संपन्न करवाए गए । जिसके तहत गणेश जी की कलश स्थापना, हवन, यज्ञ समेत अन्य धार्मिक आयोजन हुए। जिसमें प्रजापति समाज के लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। समाज के लोगों ने बताया कि हर साल मां यादे जयंती मनाते आ रहे हैं इससे क्षेत्र के समाज के लोगों से चर्चा करने का अवसर मिलता है ।