23 मई के प्रजापति समाज सम्मेलन की तैयारियों को लेकर हुई बैठक

0
21

प्रजापति मंथन : बांरा (राज.) 23 मई को होने वाले देसी प्रजापति समाज चौरासी पंचायत सामूहिक विवाह सम्मेलन के लिए एक विशेष बैठक चौमुखा बाजार स्थित भगवान श्री राधा कृष्ण मंदिर पर संपन्न हुई। अधिक जानकारी देते हुए आयोजन समिति के मीडिया प्रभारी दिनेश बहिनियां एवं योगेश प्रजापति एवं मनीष बाबरिया ने एकसंयुक्त विज्ञप्ति जारी कर बताया कि बैठक सम्मेलन अध्यक्ष चौथमल सरोया की अध्यक्षता में संपन्न हुई बैठक में 23 मई के सम्मेलन में व्यवस्थाओं को लेकर वार्तालाप की गई।

इसमें विद्युत, टेंट ,हलवाई ,कैटरिंग, सजावट, ज्वेलर्स, पेयजल, दहेज खरीद, करीना क्रय, वाहन पार्किंग विवाह पंजीयन फॉर्म आदि पर विचार विमर्श कर अंतिम रूप दिया गया। बाहर से आने वाले मेहमानों के लिए उचित आवागमन व्यवस्थाएं हेतु मार्ग तैयार किए जाएंगे। आयोजन समिति के संयोजक एवं समाज के वरिष्ठ पदाधिकारी श्री द्वारकालाल बढ़ूलिया एवं देसी प्रजापति समाज चौरासी पंचायत एवं प्रजापति विकास समिति के अध्यक्ष श्री ओम प्रकाश अपरोतिया ने जानकारी देते हुए बताया कि समाज की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए वर एवं वधू पक्षों पंजीयन हेतु कम से कम और उचित राशि ली गई है।

सम्मेलन के आयोजन को लेकर चौरासी पंचायत के गांव सहित पूरे हाडोती संभाग एवं पूरे बारां जिले में खुशी की लहर है साथ ही समाज द्वारा अपनी अपनी क्षमता से अधिक अनुदान भी आयोजन समिति को मिल रहा है। साथ ही 22 मई 2024 को निकलने वाली देव विमान एवं शोभायात्रा को भव्य बनाने के लिए भी विशेष समिति का गठन किया गया है। सामूहिक विवाह सम्मेलन में शोभायात्रा को लेकर प्रजापति समाज की मातृशक्ति में भी अपार उत्साह नजर आ रहा है सामूहिक विवाह सम्मेलन को लेकर पूरे जिले भर की समाज की संस्थाओं एवं समितियां का सहयोग मिलने वाला है।

बैठक के दौरान नंदलाल धलवासिया रिटायर अध्यापक, जानकीलाल बारवाल खेराली, भागचंद अमौरिया चौथ्या, रामस्वरूप सलवाडिया, मदनलाल बाबरिया, हरपाल खंडारिया, द्वारकालाल सलवाडिया, राजेंद्र बाबरीया, राकेश अध्यापक ख़ेराली, खेमराज अध्यापक, मुकेश बारवाल विद्युत विभाग, उमेश बहै निया, जगदीश सलवाडिया, भेरूलाल बाड्यूलिया, दीपेश सौरखंड, मुकेश घुड़ेला, योगेश प्रजापति, राजेंद्र कोतवाल, चैतन्य प्रजापति अध्यापक, हेमराज सलवाडिया, हजारीलाल गढ़वाल, हजारीलाल धलवासिया, मथुरालाल हाटवा, सत्यनारायण बाथरा, केसरी लाल मंडोरिया, जगन्नाथ हाठवा, घनश्याम अपरोतीया, सुरेश चक्रधारी, कृष्णकांत बाबरीया, शंभू दयाल धूमरनिया, सोनू पीपाड़ा, मुकेश घूडेला, महेंद्र बहेनियां, किशन सुनारिया, मनीष बाथरा आदि चौरासी पंचायत एवं प्रजापति विकास समिति के सदस्य मौजूद थे।