दहेज मुक्त विवाह कर समाज को दिया सन्देश

0
135

प्रजापति मंथन : सीकर (राज) श्रीयादे परिवार भारत द्वारा पहली बार श्री श्रीयादे माता मन्दिर में शिश्यू रानोली निवासी मुकेश मारवाल और दरभंगा बिहार निवासी दुल्हन अरुणा प्रजापति का दहेज मुक्त विवाह पंडित बनवारीलाल शास्त्री द्वारा विधि विधान से सम्पन्न करवाया गया। ट्रस्ट चेयरमैन शिवभगवान सारडीवाल ने बताया कि इस शादी से देशभर के प्रजापति और अन्य समाज में आपसी रोटी बेटी का सबन्ध स्थापित करने का संदेश दिया गया।

इस मौके पर महन्त सिद्धगिरी महाराज ने कहा कि आज के दौर में देशभर का प्रजापति समाज रोटी बेटी के अभियान से एक नई मिशाल कायम कर सकता है समाज के राष्ट्रीय संगठनों के गणमान्य लोगों को भी अब आपस मे रिश्ते करके समाज को जोड़ने का कार्य करना चाहिए। अब इस मिशन पर बड़ा अभियान चलाएँगे ओर आगामी दीपावली तक 11 जोड़ो का दहेज मुक्त सामुहिक विवाह सम्मेलन आयोजित करवाएंगे

इस मौके पर महंत सिद्धगिरी महाराज चतुर्भुज तूनवाल, आनन्द पंडित, अंशु कुमार प्रजापति, शेखरचन्द मरेठिया, नेमीचंद दमीवाल, नंदलाल काम्या, जगदीश तूनवाल, मनोज पंडित, शंकर कुमार पंडित, नंदकिशोर मरेठिया, दिनेश कुलचानिया, हरिराम प्रजापत, राजकुमार निरानीया, पवन होड़कासिया, मूलचन्द मारवाल, सांवरमल भोडीवाल, रामावतार पारमुवाल, श्रीराम भोडीवाल, सुरेश कोलगरिया, गोपाल निरानिया, वर वधु के परिवारजनों सहित सैंकड़ों कुम्हार समाज के बंधु मौजूद थे।