विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं संसाधनों की उपलब्धता के साथ कोविड-19 के मरीजों के लिए सेटेलाइट अस्पताल प्रारंभ

0
122

प्रजापति मंथन : झालावाड़। जिले में कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के कारण मरीजों की संख्या में वृद्धि होने से मेडिकल कॉलेज झालावाड़ में बेड फुल होने पर जिला प्रशासन द्वारा झालरापाटन स्थित नए सेटेलाइट अस्पताल को कोरोना कन्सल्टेंसी एण्ड इमरजेन्सी सेन्टर के रूप में प्रारंभ किया गया है। जिसका रविवार को जिला कलक्टर हरि मोहन मीना ने निरीक्षण कर वहां मरीजों के लिए उपलब्ध संसाधनों, दवाइयों, ऑक्सीजन सिलेण्डर, कन्स्टेªटर, बेड्स आदि का जायजा लिया।

जिला कलक्टर ने कहा कि 100 बेड की क्षमता वाले सेटेलाइट अस्पताल को वर्तमान में 75 बेड्स की सुविधा के साथ प्रारंभ किया है। उन्होंने कहा कि सेटेलाइट अस्पताल मेडिकल कॉलेज झालावाड़ का एक्सटेंशन पार्ट होगा जिसमें मेडिकल कॉलेज झालावाड़ तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा यहां भर्ती होने वाले कोविड मरीजों की बेहतर चिकित्सा की जाएगी। उन्होंने कहा कि सीएचसी से रेफर एवं अन्य जगहों से आने वाले मरीज मेडिकल कॉलेज न जाकर सीधे ही सेटेलाइट अस्पताल में आएं। सेटेलाइट अस्पताल में कार्यरत चिकित्सकों की टीम द्वारा रेफर किए गए केवल गंभीर मरीजों को ही झालावाड़ मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि सेटेलाइट अस्पताल में ऑक्सीजन की पर्याप्त सुविधा उपलब्ध है। साथ ही राज्य सरकार द्वारा जिले को 20 ऑक्सीजन कन्स्ट्रेटर उपलब्ध कराए गए हैं जिनमें से 12 कन्स्टेªटर सेटेलाइट अस्पताल में रखे गए हैं। जिला कलक्टर ने सेटेलाइट अस्पताल में नगर पालिका झालरापाटन की अधिशाषी अधिकारी को सफाई व्यवस्था, जेवीवीएनएल के अधीक्षण अभियंता को विद्युत की आपूर्ति एवं जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता को पानी की सुचारू व्यवस्था के लिए जेईएन व एईन की ड्यूटी सेटेलाइट अस्पताल में लगाने के निर्देश दिए हैं। इसके अतिरिक्त सुरक्षा के लिए होमगार्ड एवं सिविल डिफेन्स के कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।

इस दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर दाताराम, जिला परिषद् के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीनिधी बीटी, उपखण्ड अधिकारी झालावाड़ मुहम्मद जुनैद, पुलिस उपाधीक्षक अमित कुमार, मेडिकल कॉलेज झालावाड़ के डीन डॉ. शिव भगवान शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. साजिद खान, एसआरजी चिकित्सालय अधीक्षक डॉ. संजय पोरवाल, उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मुकेश बंसल सहित अन्य चिकित्सक एवं प्रभारी अधिकारी उपस्थित रहे।