कोरोनाकाल में बदला सामाजिक आयोजनो का स्वरूप

तकनीक के सहारे अगस्त में होगा प्रजापति समाज का पहला ऑनलाईन परिचय सम्मेलन

0
566 views

प्रजापति मंथन : झालावाड़ / उज्जैन
कहते है कि जहां चाह होती है वहा राह बन ही जाती है। कोरोना महामारी के कारण एक ओर जहां सामाजिक गतिविधियाँ जैसे सामुहिक विवाह, सामुुहिक परिचय सम्मेलन, प्रतिभा सम्मान, अधिवेशन जैसे आयोजनों पर पुरी तरह से ब्रेक लगा हुआ है, वहीं दुसरी ओर इस रूकावट का हल भी समाजजनों ने निकाल लिया है। और वह है ऑनलाईन।

ऑनलाईन शब्द जितना उच्चारण में आसान है उतना ही उपयोग में आसान भी है। आजकल सभी कार्य ऑनलाईन होते जा रहें है। कोरोना में इसकी उपयोगिता और भी बढ़ गई है। अब शिक्षा, मनोरंजन, टीवी शो, न्यूज, मीटिंग आदि सभी ऑनलाईन हो गए है। इन्हीं सभी को देखते हुए प्रजापति मंथन के संपादक तथा कुंभकार दर्पण के संपादक ने प्रजापति समाज के आयोजनों को ऑनलाईन करने की दिशा में पहला कदम रखा है। जिसके अन्तर्गत अगस्त माह में प्रजापति समाज का पहला ऑनलाईन परिचय सम्मेलन का आयोजन रखा गया है।

इस परिचय सम्मेलन की एक और खासबात यह भी है कि इसमें फार्म भरने से लेकर, शुल्क जमा करने तथा प्रोफाइल अपडेट करने तक का प्रोसेस ऑनलाईन रखा गया है। प्रजापति मंथन के संपादक प्रहलाद प्रजापति ने बताया कि इस आयोजन की सभी प्रोसेस ऑनलाईन रखी गई है। इसके लिए विशेष पोर्टल तैयार करवाया गया है। जिसमें सभी युवक-युवतियों का बायोडाटा एक वर्ष तक ऑनलाईन उपलब्ध रहेगा। जिसे वे आईडी पासवर्ड के द्वारा उपयोग कर सकेंगे।

कुंभकार दर्पण के संपादक जीवन प्रजापति ने बताया कि हमारे द्वारा पहले भी युवक-युवतियों के परिचय के लिए बायोडाटा प्रकाशित किये जाते थे। मध्यप्रदेश में कई जगहों पर परिचय सम्मेलनों का आयोजन होता रहता था। इसमें युवक-युवतियों के बायोडाटा एकत्रित कर मंच के माध्यम से प्रत्यक्ष रूप से युवक युवतियों का परिचय कराने के साथ ही प्रतिभागीयों द्वारा भी मंच से ही जीवनसाथी को लेकर अपनी पसंद नापसंद का खुलकर इजहार भी किया जाता था।
अब ऑनलाइन होने के कारण परिचय सम्मेलन का विस्तार हो गया है। क्योंकि पहले कुछ चुनिन्दा शहरो के लोग ही जुड़ पाते थे। अब देश के सभी राज्यों से रजिस्ट्रेशन आ रहें है।
इसके लिए 10 जुलाई से रजिस्ट्रेशन प्रारंभ है। जिसकी अंतिम तिथि 15 अगस्त 2020 तक बढ़ा दी गई है। सोशल मीडिया के माध्यम से निरंतर प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।

प्रजापति समाज के रजिस्टर्ड अखबारो के बैनर तले यह कार्यक्रम होने के कारण प्रतिदिन इसके विषय में जानकारी लेने तथा पंजीकरण के संबंध अभिभावकों के निरंतर फोन आ रहें है।
कार्यक्रम को सफल तथा सार्थक रूप देने के लिए दोनों ही अखबारों की टीम के द्वारा रातदिन मेहनत की जा रही है। रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि के बाद प्राप्त हुए आवेदनों के अनुसार कार्यक्रम की तारीख तय की जायेगी। तथा सभी आवेदकों को उनके रजिस्टर्ड ई-मेल आईडी तथा मोबाईल नंबरों पर ऑनलाईन कार्यक्रम की जानकारी भेज दी जायेगी। इस कार्यक्रम में रजिस्टे्रशन करवाने वाले प्रतिभागी ही शामिल होंगे।

इस परिचय सम्मेलन में शामिल होने वाले युवक युवतियों के बायोडाटा की बहुरंगीय परिचय पुस्तिका तैयार कर रजिस्टर्ड डाक द्वारा सभी के पते पर भेजी जावेगी। साथ ही प्रजापति समाज के वैवाहिक पोर्टल मंथनमेट्रोमोनियल डॉट कॉम पर बायोडाटा एक वर्ष तक उपलब्ध रहेंगे। सभी अभ्यर्थियों को युजरआइडी तथा पासवर्ड दिएं जावेंगे। जिससे वे एक वर्ष तक इस पोर्टल पर बायोडाटा सर्च कर सकते है।

इस कार्यक्रम के लिए 500 रूपये का रजिस्ट्रेशन शुल्क रखा गया है। जिसमें परिचय पुस्तिका का शुल्क भी शामिल है। एक ही माता-पिता की एक से अधिक संतान होने पर 200 रूपये का कैशबेक दिया जाएगा। अर्थात एक ही माता-पिता की दो संतानों का पंजीयन करते है तो उन्हें 800 रूपये ही देने होंगे।