झालावाड़ जिले के कई निजी अस्पतालों में कोरोना मरिजों के लिए बेड आरक्षित

एसआरजी अस्पताल के साथ-साथ कोविड केयर सेन्टरों व निजी अस्पतालों में भी हो रहा है कोरोना का इलाज

0
87 views
manthan news

प्रजापति मंथन : झालावाड़। जिले में कोविड-19 के तेजी से बढ़ते संक्रमण के कारण बढ़ रहे कोविड मरीजों के कारण श्री राजेन्द्र सार्वजनिक चिकित्सालय में बढे़ दबाव को कम करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा कोविड केयर सेन्टर बनाने के साथ-साथ कोविड मरीजों की चिकित्सा के लिए निजी अस्पतालों को भी अधिकृत किया गया है। कोविड-19 महामारी से ग्रसित मरीज एवं उनके परिजन एसआरजी चिकित्सालय में बेड उपलब्ध न होने पर घबराएं नहीं उन्हें चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा वैकल्पिक व्यवस्थाएं की गई हैं।

जिला मजिस्टेªट एवं कलक्टर हरि मोहन मीना ने बताया कि निरोगधाम अस्पताल अकलेरा में कुल 250 बेड हैं जिसमें से कोविड मरीजों की चिकित्सा के लिए 100 बेड आरक्षित किए गए हैं। यहां पर वर्तमान में 80 कोविड मरीज भर्ती हैं। संजीवनी हॉस्पिटल झालावाड़ में कुल 100 बेड हैं जिसमें से 50 बेड कोविड मरीेजों के लिए आरक्षित किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि झालरापाटन के नवीन सेटेलाइट अस्पताल में ऑक्सीजन युक्त 50 बेड का कोविड केयर सेन्टर प्रारंभ किया गया है। वहीं बालाजी ऑर्थोपेडिक हॉस्पिटल झालावाड़ में कोविड मरीजों के लिए 20 बेड आरक्षित किए गए हैं। नून हॉस्पिटल भवानीमण्डी में कुल 60 बेड हैं जिसमें से 30 बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि एलएन हॉस्पिटल झालावाड़ में कुल 50 बेड में से 35 बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि इंजीनियरिंग कॉलेज झालरापाटन के कोविड केयर सेन्टर में 50 बेड हैं। जिसमें वर्तमान में 22 कोविड मरीज चिकित्सा प्राप्त कर रहे हैं। वहीं उद्यानिकी एवं वानिकी महाविद्यालय के कोविड केयर सेन्टर में 24 बेड हैं जिसमें अभी 12 कोविड मरीज इलाज ले रहे हैं। उक्त सभी अस्पतालों एवं कोविड केयर सेन्टरों में ऑक्सीजन गैस की सुविधा उपलब्ध है।